कही चंबल के बीहड़ों में तो नही पहुँच गया 8 पुलिसवालों का हत्यारा दुर्दांत अपराधी विकास दुबे


Dhananjay Singh | 06 Jul 2020 | 220

 कानपुर।8 पुलिसवालों की हत्या करने का आरोपी दुर्दांत अपराधी विकास दुबे कही चंबल के बीहड़ों में तो नही पहुंच गया है। इटावा के रास्ते 3 राज्यों की सीमाओं को जोड़ने वाले आगरा सेंटर को उसने अपनी मंज़िल बनाया है। यह वो जगह है जहां से सिर्फ 30 मिनट के वक्त में यूपी से एमपी और राजस्थान में आया और जाया जा सकता है।इसी के चलते विकास दुबे के नेपाल भागने की कम ही उम्मीद जताई जा रही है। दूसरी वजह यह भी है कि चीन विवाद के चलते इस वक्त नेपाल बॉर्डर पर खासा सख्त पहरा है। पहले भी कुख्यात अपराधी इस तीन राज्यों की सीमाओं वाले इस सेंटर का फायदा उठा चुके हैं। गौरतलब रहे कि स्पेशल टास्‍कफोर्स के अलावा यूपी पुलिस के 40 थानों की फोर्स विकास दुबे की तलाश में लगी हुई है। औरैया में जिस तरह से विकास दुबे की आखिरी लोकेशन ट्रेस हुई है। तो उससे बहुत संभावना है कि विकास दुबे इटावा के रास्ते चंबल के बीहड़ का रास्ता पकड़ लिया हो। बीहड़ के अंदर से होते हुए आगरा तक पहुंचा जा सकता है। आगरा पहुंचने के बाद एमपी और राजस्थान में दाखिल होना आसान हो जाता है। दुर्दांत अपराधियों के मामले में अक्सर देखा गया है कि सेटिंग के चलते दो स्टेट की पुलिस में कोऑर्डिनेशन बनना मुश्किल हो जाता है या फिर दूसरे स्टेट की पुलिस दिखावे के लिए अपने यहां सर्च ऑपरेशन चलाती है, लेकिन अपराधी उसके यहां छिपा बैठा रहता है।बीहड़ के कितने ही बागी इस झोल का फायदा उठाकर आतंक का खूनी खेल खेलते रहे हैं। दूसरी बात यह भी है कि बारिश के मौसम में चंबल नदी में पानी आ जाता है। बारिश के चलते हरियाली भी उग आती है। ऐसे में अगर चंबल की किसी टेकरी के पास से पुलिस के 10 ट्रक भी गुज़र जाएं तो यह पता लगाना मुश्किल हो जाएगा कि टेकरी के पीछे कौन छिपा बैठा है। कानपुर आईजी ने कही यह बड़ी बात कानपुर आईजी रेंज मोहित अग्रवाल ने रविवार को बताया कि विकास दुबे के सभी संभावित ठिकानों पर छापेमारी जारी है। और जल्द ही सफलता हासिल होगी। उन्होंने कहा कि अभी पूरा चौबेपुर थाना शक के घेरे में है। कितने पुलिसकर्मियों ने विकास दुबे से बात की, इस मामले की जांच चल रही है। मोहित अग्रवाल ने कहा कि अगर किसी पुलिसकर्मी की भूमिका सामने आई तो उसे किसी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा, उनपर पुलिसकर्मियों की हत्या करने के आरोप में कार्रवाई की जाएगी और दोषी पाए जाने पर वे बर्ख़ास्त भी होंगे। आईजी ने बताया कि इस पूरी घटना में 21 नामजद हैं और 50-60 अज्ञात हैं।



अन्य ख़बरें

Beautiful cake stands from Ellementry

Ellementry

© Copyright 2019 | Pratapgarh Express. All rights reserved