मानवता हुई तार-तार,हाईवे पर युवक को रात भर रौंदते रहे वाहन,कुंभकर्णी नींद में सोती रही पुलिस


Dhananjay Singh | 10 May 2021 | 14

प्रयागराज।अभी तक हम और आप फिल्‍मों में ही भीभत्‍स नजारा देखते थे लेकिन एक हकीकत सामने आई है जहां मानवता तार-तार हो गई हैं। किसी का भी दिल तक नहीं पसीजा।रात भर युवक के ऊपर से एक के बाद एक वाहन गुजरते रहे लेकिन कोई भी रुक कर जानने की जहमत नही उठायी और न ही प्रयास किया।पुलिस को भी सूचित करने की जहमत नहीं उठाई गई। घूरपुर हाईवे पर दुर्घटना के शिकार एक युवक के ऊपर से पूरी रात भर वाहन फर्राटा भरते रहे और रौंदते रहे लेकिन पुलिस को भनक तक नहीं लगी।शव के चिथड़े उड़ गये और युवक की पहचान भी नहीं हो सकी।हादसे की भयावहता इसी से पता चलती है कि वाहनों के रौंदने से युवक के शरीर का पूरा मांस के चिथड़े सड़क पर बिखर गये। युवक का चेहरा भी नहीं बचा।पुलिस को सुबह युवक के शरीर के अवशेष ही मिले। अनुमान लगाया गया है कि युवक की उम्र लगभग 30 साल होगी। युवक के शरीर की पूरी हड्डियां भी चकनाचूर हो गई। ये हादसा देर रात सेमरा कल्बना गांव बीआरसी के सामने हुआ। युवक का शव रात भर सड़क पर ही पड़ा रहा और दर्जनों वाहन उसे रौंदते रहे। सुबह लोगों ने देखा तो पुलिस को सूचना दी। घूरपुर पुलिस ने युवक की शिनाख्त कराने की कोशिश की, लेकिन पहचान नहीं हो पाई। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।घटनाओं की निगरानी करने लिए हाईवे पर पुलिस की तैनाती होती है।हादसे के बाद लगभग 10 घंटे तक पुलिस का मौके पर न पहुंचना उनकी कार्यप्रणाली पर सवाल खड़ रहा है। पुलिस मौके पर रात में ही पहुंच जाती तो युवक की पहचान भी हो सकती थी और मानवता भी शर्मसार होने से भी बच जाती।


© Copyright 2019 | Pratapgarh Express. All rights reserved