साइकिल पर लदा हुआ पत्नी का शव सड़क पर गिरा,हताश होकर बैठ गया बुजुर्ग


Dhananjay Singh | 28 Apr 2021 | 172

जौनपुर।एक ऐसी तस्वीर सामने आ रही है जो इंसानियत को शर्मसार कर रही है। इस तस्वीर में एक बुजुर्ग अपनी पत्नी के शव को साइकिल पर लेकर घंटों अंतिम संस्कार करने लिए भटकता रहा। कोरोना के कहर का इतना खौफ लोगों में इतना बढ़ गया है कि गांव का कोई भी शख्स अर्थी को कंधा देने के लिए आगे नहीं आया।इसी वजह से बुजुर्ग को साइकिल पर शव रखकर इधर, उधर भटकना पड़ा। कोरोना के कहर का खौफ लोगों में इतना है कि मौत के बाद भी गांव का कोई भी आदमी बुजुर्ग के घर उसका गम बांटने तक नहीं पहुंचा। इतना ही नहीं गांव के लोगों ने बुजुर्ग को पास के श्मशान घाट पर अपनी पत्नी का अंतिम संस्कार तक नहीं करने दिया। यह घटना 27 अप्रैल की बताई जा रही है।मड़ियाहूं कोतवाली क्षेत्र के अंबरपुर निवासी तिलकधारी सिंह की 50 वर्षीय पत्नी काफी दिनों से बीमार चल रही थी। सोमवार को अचानक उनकी पत्नी की तबीयत अधिक खराब हो गई और जिला अस्पताल में भर्ती कराया। इलाज के दौरान राजकुमारी की जिला चिकित्सालय में ही उसकी मौत हो गई। स्वास्थ्य महकमे ने राजकुमारी का शव एंबुलेंस से घर भेजवा दिया।लेकिन गांव वाले कोरोना का हवाला देते हुए उसके घर नहीं पहुंचे। शव की हालत खराब होती जा रही थी फिर पति ने अकेले ही पत्नी के शव को साइकिल पर रखकर गांव के नदी के किनारे दाह संस्कार करने के लिए चल पड़ा।अभी नदी के किनारे चिता की तैयारी शुरू नहीं की थी कि गांव के कुछ लोगों ने मौके पर पहुंचकर शव का अंतिम संस्कार को रोक दिया। इस मामले की सूचना मिलते ही मड़ियाहूं कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और शव को वापस घर लाई कफन का इंतजाम किया गया और सम्मान के साथ जौनपुर रामघाट पर शव अंतिम संस्कार कराया। इस मामले मड़ियाहूं तहसील के सीओ एसपी संत प्रसाद उपाध्याय का कहना है कि अंबरपुर निवासी तिलकधारी सिंह की पत्नी की मृत्यु हो गई थी। अस्पताल से एंबुलेंस शव को गांव छोड़ गई थी। गांव के लोगों ने वहां पर दाह संस्कार करने का विरोध किया।इस पर वह व्यक्ति शव को साइकिल पर लेकर अकेले ही नदी किनारे ले जाने लगा। जैसे ही पुलिस को इसकी सूचना हुई मौके पर कोतवाल मड़ियाहूं पहुंचे शव के लिए कफन और गाड़ी की व्यवस्था कराई और मृतक का सम्मान के अंतिम संस्कार कराया गया।



अन्य ख़बरें

Beautiful cake stands from Ellementry

Ellementry

© Copyright 2019 | Pratapgarh Express. All rights reserved