माघ मेला और पुलिस:धनंजय सिंह


Source PBH | 15 Dec 2020 | 546

प्रयागराज।हर साल माघ के महीने में लाखों की संख्या में श्रद्धालु त्रिवेणी के पावन संगम तट पर स्नान और कल्पवास के लिए आते है।माघ मेले के नाम से विख्यात इस मेले का आयोजन से श्रद्धालुओं की आस्था और भावना बहुत ही गहराई से जुड़ी रहती है। लाखों की संख्या में संगम आने वाले स्नानार्थियों और श्रद्धालुओं को सुगम और सुरक्षित स्नान और दर्शन कराकर उन्हे उनके गन्तव्य तक वापस भेजना तथा सुरक्षा और सहयोग कर पुलिस अपना परम कर्तव्य निभाती है।पुलिस बड़े मन से कर्तव्य परायणता व अनुशासन तथा मानवीय मूल्यों के प्रति संवेदनशील होकर इस कसौटी पर खरी उतरती है।पुलिस अपने कर्तव्य परायणता,सेवा भावना एव व्यवहार से जनमानस मे न केवल सुरक्षा की भावना दृढ़ करती है बल्कि उन्हें यह भरोसा भी दिलाती है कि पुलिस सच में सच्ची मित्र है। माघ मेले में ड्यूटी करने वाले सभी पुलिसकर्मी अपने कर्तव्य के प्रति पूर्ण निष्ठा व लगन से समर्पित होकर शालीनता और दृढ़ता के मंत्र को व्यवहार कर इस विशाल आयोजन को सफलतापूर्वक पूरा करते है और उत्तर प्रदेश पुलिस की छवि को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाते हैं। माघ मेले में ड्यूटी करने वाले पुलिसकर्मी हमेशा याद रखे कि कठोर परिश्रम और नि:स्वार्थ भाव से की गयी सेवा खुद में एक पुरस्कार है।



अन्य ख़बरें

Beautiful cake stands from Ellementry

Ellementry

© Copyright 2019 | Pratapgarh Express. All rights reserved