पंचायत चुनाव की तैयारियां जीरो पर,जानिए अपने जिले का हाल


Dhananjay Singh | 20 Nov 2020 | 173

 लखनऊ। यूपी में पंचायतों के पुनर्गठन की अधिसूचना का गजट नोटिफिकेशन 18 दिसंबर तक हो जाएगा। पिछले पांच सालों में नगरीय निकायों के सीमा विस्तार से जो 42 जिले प्रभावित हैं, उनमें ग्राम पंचायतों के परिसीमन का कार्य इसी महीने पूरा हो जाएगा।दिसंबर के आखिरी तक पंचायतों की मतदाता सूची का पुनरीक्षण भी पूरा हो जाएगा। पंचायत चुनाव त्रिस्तरीय होगा यूपी में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव होने है। यूपी में 58,758 ग्राम पंचायतें, 821 क्षेत्र पंचायतें और 75 जिला पंचायतें हैं, जहां चुनाव होने है। तत्कालीन सदस्यों का कार्यकाल 25 दिसंबर को खत्म हो जायेगा। पंचायत पुनर्गठन व परिसीमन का काम चालू गौरतलब है कि इस वर्ष मार्च महीने से कोविड-19 के हालात और लॉकडाउन के कारण चुनाव की तैयारियां अपने समय से आरंभ नहीं हो सकीं थीं। ग्राम पंचायतों के पुनर्गठन के संबंध में 20 नवंबर तक प्रस्ताव लिए जाएंगे। 21 से 25 नवंबर तक ग्राम पंचायतों के पुनर्गठन व परिसीमन के लिए जिला स्तर पर तैयार प्रस्ताव का अंतिम प्रकाशन होगा। 2 दिसंबर तक अंतिम प्रकाशन पर आपत्तियां प्राप्त की जाएंगी। चुनाव आयोग की तैयारी राज्य चुनाव आयोग ने पंचायत चुनाव के मद्देनजर सूचियों की जांच का काम शुरू कर दिया है। मतदाता सूचियों लेकर गैरजरूरी नाम हटाए जा रहे हैं,और नए नाम जोड़ने का काम जारी है। इसके संबंध में अधिसूचना जारी हो चुकी है। दिसंबर के आखिर में वोटर लिस्ट जारी की जाएगी। ई-स्टांप का होगा प्रयोग आगामी पंचायत चुनावों में पहली दफा ई-स्टांप प्रयोग में लाए जा रहे है। उम्मीदवारों की आवश्यकता को देखते हुए सौ रुपये एवं उससे कम कीमत के ई-स्टांप उपलब्ध कराया जाएगा। इसके लिए अतिरिक्त काउंटर भी खोले जाने की तैयारी हो रही है। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में 15 फीसदी तक बढ़ेंगे बूथ त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की तैयारियां धीरे-धीरे तेज हो गई हैं। इस बार कोरोना के कारण गैर प्रांतों से अपने गांव लौटने वाले प्रवासियों की वजह से मतदाताओं की संख्या मेें 10 से 15 फीसदी बढ़ने की संभावना हो सकती है। इससे बूथों की संख्या का भी बढ़ना तय है। पंचायत चुनाव से पहले प्रदेश में अवैध शस्त्र को लेकर अभियान शुरू किया गया है। इस अभियान में अब तक करीब साढ़े पांच हजार अवैध असलहे बरामद किए गए हैं। ये बरामदगी एक माह के अभियान में हुई है। पुलिस को पंचायत चुनाव तक यह अभियान जारी रखने के लिए निर्देश दिए गए हैं। पुलिस मुख्यालय के मुताबिक बरामद अवैध असलहों में पिस्टल, रिवॉल्वर और अन्य शस्त्र शामिल हैं। 3370 अभियुक्तों को गिरफ्तार भी किया गया और असलहा बनाने की 40 अवैध फैक्ट्री भी पकड़ी गई है।



अन्य ख़बरें

Beautiful cake stands from Ellementry

Ellementry

© Copyright 2019 | Pratapgarh Express. All rights reserved