सावधान राजधानी में डेंगू ने पसारे पैर,रोजाना अस्पतालों में आ रहे 14-15मरीज,सोते रहे जिम्मेदार


Dhananjay Singh | 22 Oct 2020 | 396

 लखनऊ।कोरोना से युद्ध के बीच जिम्मेदारों की लापरवाही की वजह से डेंगू ने अपने पैर तेजी से पसारना शुरू कर दिया हैं।सूबे की राजधानी के तीन बड़े पैथोलाॅजी केंद्रों पर रोजाना लगभग 14-15 मरीज मिल रहे हैं।शहर भर में 250 लैब हैं।ऐसे में मरीजों की संख्या का अनुमान लगाया जा सकता है।स्वास्थय विभाग के मुताबिक सोमवार को आठ मरीज मिले है।सरकारी अस्पतालों में डेंगू के मरीजों की संख्या 290 पहुंच गई है, तो वही निजी अस्पतालों में भी लगभग 100 से मरीज भर्ती है। स्वास्थ्य विभाग के जिम्मेदारों ने जुलाई महीने में एक्शन प्लान को बनाया था।इस प्लान में जिन स्थानों पर डेंगू के मरीज मिले थे,उन स्थानों को कंटेनमेंट जोन घोषित कर एंटीलार्वा का छिड़काव के साथ-साथ फाॅगिंग होनी थी,परन्तु प्लान तो कागजों में ही सिमट कर रह गया।नतीजा पुराना शहर से से लेकर गोमती नगर,इंदिरा नगर और फैजुल्लागंज में डेंगू के मरीज सामने आने लगे है।हर छोटे बड़े अस्पताल में चार से लेकर पांच डेंगू मरीज भर्ती है,परन्तु स्वास्थ्य विभाग को इसकी जानकारी ही नही है। आईएमए के पूर्व अध्यक्ष डाॅ. पीके गुप्ता ने बताया कि 15 दिन से डेंगू तेजी से अपना पैर पसार रहा है।उनकी पैथोलाॅजी में रोज आठ से दस मरीज प्लेटलेट्स गिरने के मिल रहे है।गोमतीनगर,अलीगंज,इंदिरानगर में मरीज़ों की संख्या अधिक है। इसके अलावा चौक,ठाकुरगंज,राजाजीपुरम,फैजुल्लागंज,खदरा,मड़ियांव मे प्रकोप अधिक है। डेंगू पर वार के लिए स्वास्थ्य विभाग ने की तैयारी बनाया नया प्लान तैयार स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना की तरह डेंगू के लिए नये प्लान को तैयार किया हुआ है।इस प्लान में जहां पर डेंगू के मरीज मिलेंगे,उसके आसपास के 50 घरों में टीम जांच करेगी।कूलर,पानी के जमाव को देखते हुए एंटीलार्वा का छिड़काव और फाॅगिंग की जायेगी।अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ. केपी त्रिपाठी के अनुसार 100 टीमें बनाई गई है।



अन्य ख़बरें

Beautiful cake stands from Ellementry

Ellementry

© Copyright 2019 | Pratapgarh Express. All rights reserved