पुलिस स्मृति दिवस पर सीएम योगी ने पुलिस की सराहना की,कोविड-19 से निपटने में निभाई अहम भूमिका


Dhananjay Singh | 21 Oct 2020 | 355

 यूपी के कानपुर में बीते माह जुलाई में हुए बिकरू कांड में शहीद हुए पुलिस कर्मियों सहित परिजनों को आज पुलिस लाइन में सम्मानित किया गया। यूपी में पुलिस स्मृति दिवस के मौके पर आज बिकरू कांड में शहीद आठ पुलिसकर्मियों सहित 9 पुलिसकर्मियों को सम्मानित किया गया। बिकरू कांड में शहीद हुए सीओ देवेंद्र मिश्रा, सब इंस्पेक्टर अनूप कुमार सिंह, सब इंस्पेक्टर महेश कुमार यादव, सब इंस्पेक्टर नेबूलाल, सिपाही जितेन्द्र कुमार पाल, सुल्तान सिंह, राहुल कुमार और बबलू कुमार के परिजनों को सम्मानित किया गया। सुल्तानपुर जिले में तैनात हेड सिपाही जितेन्द्र कुमार मौर्य के परिजनों को भी सम्मानित किया गया, जिनकी शहादत एक हमले में तीन अक्टूबर 2019 को हुई थी। बीते 61 साल से देश के सभी केंद्रीय पुलिस संगठनों व सभी राज्यों की सिविल पुलिस द्वारा हर साल 21 अक्टूबर को ”पुलिस स्मृति दिवस” के रूप में मनाया जाता है। इस साल पूरे देश में 264 शहीद पुलिसकर्मियों को सम्मानित किया गया। इसके बाद फुलफार्म में आयी पुलिस घटना के मुख्य आरोपी विकास दुबे और उसके मामा प्रेम प्रकाश पांडेय, उसके करीबी अतुल दुबे, प्रभात मिश्रा समेत छह लोगों को एनकाउंटर में मार गिराया था, जबकि करीब 34 आरोपित जेल में हैं। शहीद हुए पुलिसकर्मियों को दी श्रद्धाजंलि पुलिस लाईन में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धाजंलि देते हुए बोले यूपी पुलिस के उन 9 पुलिस कर्मियों को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं 2019-20 के दौरान जिन्होंने ड्यूटी के दौरान अपनी जान गंवाई। उनका बलिदान सभी को प्रेरित करता है। बताते चले कि बीते माह दो-तीन जुलाई की रात गैंगस्टर विकास दुबे को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस टीम कानपुर के चैबेपुर थाना क्षेत्र के बिकरू गांव में गई थी, जहां पर बीच सड़क पर जेसीबी लगाकर रास्ता रोका गया था पुलिस की बढ़ गई तभी विकास और उसके साथियों ने पुलिस टीम पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। फायरिंग में बिल्हौर सीओ देवेंद्र मिश्रा समते 8 पुलिसवाले शहीद हो गए थे।



अन्य ख़बरें

Beautiful cake stands from Ellementry

Ellementry

© Copyright 2019 | Pratapgarh Express. All rights reserved